मेरा बस एक ही “कसूर” है …,

मेरे सारे “कसूरों” पर भारी....मेरा बस एक ही “कसूर” है …,
मैं उसे “पसंद” करता हूँ बस इसी बात का दिल को “गुरूर” है...!!


Previous
Next Post »